Sunday, May 27RNI NO CHHHIN/2016/71343

‘ पैड मैन ‘ समेत ये 5 बायोपिक फ़िल्में 2018 में होगी रिलीज़

पैड मैन ‘ समेत ये 5 बायोपिक फ़िल्में 2018 में होगी रिलीज़

मुंबई । आने वाले वक़्त में ऐसी कहानियां हिंदी सिनेमा के पर्दे पर आने वाली हैं, जिनके नायक वास्तविक जीवन से आये हैं। उनकी कहानियां आपने सुनी होंगी और कुछ इतना प्रभावित करती हैं कि ज़हन में ख्याल आता होगा कि इन पर फ़िल्म बननी चाहिए। ऐसी ही 5 बायोपिक फ़िल्में, जिनकी कहानी ज़िंदगी जीने के रंग-ढंग सिखाती है।

अक्षय कुमार की पैड मैन

हमारे-आपके बीच से निकले नायक पर आधारित 2018 की पहली फ़िल्म पैड मैन’ है, जो 26 जनवरी को आएगी। इस फ़िल्म में अक्षय कुमार अरुणाचलम मुरुगानाथम के किरदार में नज़र आ रहे हैं। ये फ़िल्म अरुणाचलम की बायोपिक है। अरुणाचलम ने कम क़ीमत के सेनेटरी पैड्स बनाने की विधि की खोज करके आधी आबादी के लिए को बहुत बड़ी सहूलियत दी है। अरुणाचलम गुमनाम हीरो थे, जिनके बारे में लोगों को तभी पता चला, जब ट्विंकल खन्ना ने इस पर फ़िल्म बनाने का सोचा और अक्षय कुमार लीड रोल में फ़ाइनल हुए।

आर बाल्की निर्देशित इस फ़िल्म में राधिका आप्टे मुरुगानाथम की पत्नी शांति के किरदार में हैं, जिनकी माहवारी की दिक्कत को समझने के बाद उन्होंने इससे निपटने का उपाय खोजने का बीड़ा उठाया और इसी प्रक्रिया में वो हीरो बन गये।

रितिक रोशन की सुपर 30

पटना में चलने वाली सुपर 30 कोचिंग का नाम सभी ने सुना होगा। ग़रीब तबके से आने वाले मेधावी विद्यार्थियों को इस कोचिंग में पढ़ाकर उन्हें इस काबिल बनाया जाता है कि आईआईटी जैसी मुश्किल प्रवेश परीक्षा पास कर सकें। आप सोचेंगे कि इसमें क्या हीरोइज़्म है। कितनी ही कोचिंग ऐसी हैं, जो मेडिकल और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी करवाती हैं। सुपर 30 का हीरोइज़्म ये है कि इसमें पढ़ने वाले विद्यार्थियों को कोई फ़ीस नहीं देनी होती। बस एक ही शर्त है कि वो मेधावी हों। इस कोचिंग को आनंद कुमार संचालित करते हैं, जो मूल रूप से मैथमैटिशिन हैं और ख़ुद ग़रीबी की वजह से उच्च शिक्षा का मौक़ा पाने से वंचित रह गये थे।

आनंद ने अपनी कसक को ही जीवन का लक्ष्य बना लिया। आनंद की सुपर 30 कोचिंग का परिणाम शत-प्रतिशत रहता है। अब उन पर बन रही फ़िल्म को विकास बहल डायरेक्ट कर रहे हैं। फ़िल्म में रितिक रोशन आनंद कुमार के किरदार में नज़र आएंगे। अगर आपको याद हो, तो प्रकाश झा की आरक्षण में अमिताभ बच्चन का किरदार आनंद कुमार को ध्यान में रखकर ही विकसित किया गया था। फ़िल्म वैसे तो आरक्षण के मुद्दे पर आधारित थी, मगर अमिताभ को मेधावी विद्यार्थियों के लिए नि:शुल्क कोचिंग संचालक के किरदार में दिखाया गया था।

रणबीर कपूर की संजय दत्त बायोपिक

इन दोनों आम कहानियों के अलावा कुछ बेहद ख़ास कहानियां भी बड़े पर्दे पर दिखने वाली हैं।

बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त की बायोपिक फ़िल्म उनकी ज़िंदगी के सभी उतार-चढ़ाव को सिल्वर स्क्रीन पर दिखाएगी। इस फ़िल्म को राजकुमार हिरानी डायरेक्ट कर रहे हैं, जबकि रणबीर कपूर लीड रोल में हैं। संजय के किरदार के लिए रणबीर कपूर ने ख़ुद को फिज़िकली काफ़ी बदला है।

इस फ़िल्म में दीया मिर्ज़ा मान्यता दत्त के रोल में हैं, जबकि परेश रावल सुनील दत्त का किरदार प्ले करेंगे। वहीं मनीषा कोईराला नर्गिस के रोल में दिखेंगी। फ़िल्मों में संजय दत्त कई किरदारों के ज़रिए अलग-अलग कहानियां कहते रहे हैं, मगर अब उनकी अपनी कहानी ही सिल्वर स्क्रीन पर दिखेगी।

दिलजीत की सूरमा

दिलजीत दोसांझ शाद अली की फ़िल्म सूरमा में लीड रोल निभा रहे हैं।

सूरमा हॉकी प्लेयर संदीप सिंह की बायोपिक फ़िल्म है। 2006 में संदीप सिंह को ट्रेन में यात्रा के दौरान ग़ल्ती से गोली लग गयी थी। दो दिन बाद उन्हें हॉकी वर्ल्ड कप के लिए जाना था।

फ़िल्म संदीप के संघर्ष और जज़्बे की दास्तान है। तापसी पन्नू फ़ीमेल लीड रोल में हैं।

अनुपम खेर की द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर

देश के पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह अपनी सियासी चुप्पी को लेकर ख़ूब चर्चा में रहे हैं।

अब उनके प्रधानमंत्री के रूप में कार्यकाल पर एक फ़िल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ आ रही है, जिसे हंसल मेहता ने लिखा है, जबकि विजय गुट्टे ने डायरेक्ट किया है। इस फ़िल्म में अनुपम खेर पूर्व पीएम के किरदार में दिखेंगे। फ़िल्म 21 दिसंबर को रिलीज़ के लिए निर्धारित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *